क्यों बदलते हैं मौसम ? क्या है धरती के ध्रुव और गोलार्द्ध ?

0

गोलार्द्ध (Hemisphere)

पृथ्वी के चारों ओर खींचा गया कोई भी वृत्त(Circle )  जो इसे दो बराबर हिस्सों में विभाजित करता है जिसे गोलार्ध कहा जाता है। आमतौर पर चार (Hemisphere)  माने जाते हैं: Northern, Southern, Eastern, और  Western. भूमध्य रेखा (The Equator ) , या 0 डिग्री अक्षांश की रेखा (Latitude) , पृथ्वी को उत्तरी(North ) और दक्षिणी(South ) Hemisphere  में विभाजित करती है। पृथ्वी के Seasonal Tilt  और सूर्य से दूर होने के कारण Northern और Southern Hemisphere  के जलवायु में अंतर हैं।

Northern  Hemisphere

 यहाँ गर्मी के महीने जून से सितंबर तक होते हैं।Northern  Hemisphere  में उत्तरी अमेरिका, दक्षिण अमेरिका का उत्तरी भाग, यूरोप, अफ्रीका का उत्तरी दो-तिहाई भाग और अधिकांश एशिया शामिल हैं।

Southern Hemisphere

यहाँ गर्मी दिसंबर में शुरू होती है और मार्च में समाप्त होती है।Southern Hemisphere में अधिकांश दक्षिण अमेरिका, एक तिहाई अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, अंटार्कटिका और कुछ एशियाई द्वीप आते हैं | पृथ्वी कोMeridians  या Lines Of Longitude   में भी विभाजित किया जा सकता Prime Meridian, Or 0 Degrees Longitude,, और International Date Line, 180 Degrees Longitude , पृथ्वी को Eastern  औरWestern Hemisphere में विभाजित करते हैं।

पूर्वी गोलार्ध (Eastern   Hemisphere )

Eastern   Hemisphere   , Prime Meridian   के पूर्व और International Date Line के पश्चिम के क्षेत्र को दर्शाता  है। इसमें यूरोप, अफ्रीका, एशिया, ऑस्ट्रेलिया और ओशिनिया के द्वीप शामिल हैं। Eastern   Hemisphere    पर केंद्रित एक मानचित्र के केंद्र में हिंद महासागर का बेसिन होगा।

पश्चिमी गोलार्ध  (Western Hemisphere)

पश्चिमी गोलार्ध Prime Meridian    के पृथ्वी पश्चिम के क्षेत्र और International Date Line  के पूर्व को दर्शाता  है। इसमें उत्तर और दक्षिण अमेरिका शामिल हैं। Western Hemisphere  एक विशुद्ध रूप से Geographic Term  है और इसे ” Western ” दुनिया के अन्य उल्लेखों के साथ Confuse  नहीं होना चाहिए, जो अक्सर यूरोप, उत्तरी अमेरिका और अन्य विश्व क्षेत्रों के कुछ हिस्सों के लिए उपयोग किया जाता है जो कुछ आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक मूल्य एक जैसे हैं |

Geographical Pole

एक Geographical Pole  एक Rotating Planet  की सतह पर दो बिंदुओं में से एक है, जहाँ Axis Of Rotation ,  Surface Of The Planet  से मिलता है। प्रथ्वी का The North Geographical Pole ,Equatorरेखा से 90 डिग्री उत्तर में है। The South Geographical Pole ,  Equato  से 90 डिग्री दक्षिण में स्थित है। पृथ्वी की सतह के पास , Geographical Pole   कुछ वर्षों की अवधि में कुछ मीटर की दूरी पर सरकते  हैं।

उत्तरी ध्रुव  (North Pole )

North Pole  हमारे ग्रह पृथ्वी का सबसे दूर का उत्तरी छोर  है। यह वह बिंदु है जहां पृथ्वी की Axis  घूमती है। यह Arctic Ocean  में आता  है और यहाँ बहुत ठंड पड़ती  है क्योंकि यहाँ लगभग 6 माह  तक सूरज नहीं निकलता है। North Pole  के चारों ओर  बहुत ठंडा महासागर है जो  हमेशा बर्फ की मोटी चादर से ढका रहता है। इस Geographical North  Pole   के पास Magnetic North Pole  है, Compass सुई इस Magnetic North Pole   की ओर इशारा करती है। North Star या  Pole Star  हमेशा उत्तरी ध्रुव के आकाश में दिखाई देता  है। सदियों से, नाविक, इस तारे को देखकर यह अनुमान लगाते रहे हैं कि वे North  में हैं। इस क्षेत्र को Arctic Circle  भी कहा जाता है क्योंकि इसमें Midnight Sun,  और  Polar Night   भी दिखाई देता  है। North Pole  क्षेत्र को Arctic Region  भी कहा जाता है। बर्फ से ढके विशाल क्षेत्र के अलावा, Arctic Sea  भी है। यह समुद्र कनाडा, ग्रीनलैंड, रूस, अमेरिका, आइसलैंड, नॉर्वे, स्वीडन और फिनलैंड जैसे कई अन्य देशों की भूमि से जुड़ा हुआ है। इसे Dark Ocean  का उत्तरी छोर भी कहा जा सकता है।

South Pole (South Pole )

South Pole पृथ्वी का सबसे दक्षिणी (South )  बिंदु है। इसे Antarctica के नाम से भी जाना जाता है। देखा जाए तो दो मुख्य South Pole हैं, एक स्थिर और दूसरा जो घूमता है। South Pole का महाद्वीप अंटार्कटिका है। यह बहुत अधिक  ठंडी जगह है। सर्दियों के दौरान कई हफ्तों तक सूर्योदय नहीं होता है। और गर्मियों के दौरान, December  के अंत से March  के अंत तक कोई Sunset  नहीं होता है। यहां तक ​​कि Polar Pointt पर भी, 6 माह तक सर्दी रहती  हैं और काफी लम्बे समय  तक सूर्योदय नहीं होता है। और जब सूर्योदय होता है, तो यह छह महीने की लंबी गर्मी की शुरुआत होती  है | South Pole तक पहुंचना मुश्किल है  | North Pole के विपरीत, जो समुद्र और सपाट समुद्री बर्फ से ढंका है, South Pole  एक पहाड़ी महाद्वीप पर स्थित है। Antarctica  बर्फ की मोटी चादर से ढका होता है और इसके केंद्र में 1.5 km  से अधिक मोटी बर्फ होती है। South Pole बहुत ऊँचा है। यह उन जगहों से बहुत दूर है जहां Scientific Settlements  हैं और यहां जाने वाले जहाजों को अक्सर बर्फीले समुद्री मार्ग से जाना पड़ता है। तट पर पहुंचने के बाद भी, भूमि मार्ग से जाने वाले खोजकर्ताओं को पोल तक पहुंचने के लिए 1,600 कम  से अधिक की यात्रा करनी पड़ती है। उन्हें तैरते हुए Icebergs  को भी पार करना पड़ता है और फिर  बर्फ के बड़े बड़े पहाड़ ,समुद्र, और उच्च तापमान वाली बर्फीली हवाओं से भरे पठार और Glacier दिखाई देते हैं। Antarctica की औसत ऊँचाई लगभग 7,500 फीट (2.3 किमी) है। और जितना ऊँचा  होता जाता है, उतना ही ठंडा होता जाता है।
समय औसत तापमान
North Pole South Pole
गर्मी (Summer) 32° F (0° C) −18° F (−28.2° C)
सर्दी (Winter) −40° F (−40° C) −76° F (−60° C)

धरती पर अलग अलग जगह पर मौसम अलग क्यों होता है –

पृथ्वी की झुकी हुई धुरी ऋतुओं (Weather ) का कारण बनती है। पूरे वर्ष में, पृथ्वी के विभिन्न हिस्सों को सूर्य की सबसे अधिक प्रत्यक्ष किरणें प्राप्त होती हैं। इसलिए, जब North Pole  सूर्य की ओर झुकता है, तो Northern Hemisphere  में गर्मी होती है। और जब South Pole  सूर्य की ओर झुकता है, तो Northern Hemisphere में सर्दी होती है

Season कैसे परिवर्तित होते हैं ? (But how do seasons change?)

इसका सीधा संबंध सूर्य और पृथ्वी की स्थिति से है। पृथ्वी न केवल सूर्य के चारों ओर घूमती है, बल्कि अपनी Axis  पर भी घूमती है। और यह Axis  पूरी तरह से लंबवत न होकर  23.5 डिग्री के Angle पर झुकी हुई है  है। यह हल्का झुकाव Season के निरंतर परिवर्तन का कारण बनता है।

Season कैसे बदलते रहते हैं –

सूर्य के चारों ओर पृथ्वी की परिक्रमा के दौरान , इसकी स्थिति में परिवर्तन के साथ, पृथ्वी पर Season बदलते  है। जिस तरह  आग के करीब कोई वास्तु रखने पर जो हिस्सा आग के पास होता है वो गर्म हो जाता है , उसी तरह पृथ्वी का जो hemisphere जो सूर्य के करीब होता  है वहां Summer होता है  और जो  hemisphere  सूर्य से दूर होता है, वहां  Winter होता है | इसका अर्थ यह भी है कि जब ग्रीष्म ऋतु northern hemisphere  में होती है, तब शरद ऋतु southern hemisphere  में होती है। और पूरे वर्ष में यहRotation  विभिन्न मौसमों का कारण बनता है । Season के साथ-साथ दिन और रात का परिवर्तन भी सूर्य की स्थिति पर निर्भर करता है। सूर्य की गर्मी का फैलाव न केवल पृथ्वी की गति पर निर्भर करता है, बल्कि हमारे ग्रह के आकार पर भी निर्भर करता है। आमतौर पर, equator  से जितना दूर होता है, उतनी ही अधिक सर्दी वहां पाई जाती है। इसी प्रकार हमारे ग्रह की सबसे ठंडी जलवायु Poles पर पाई जाती है। जो क्षेत्र , equator , यानी काल्पनिक रेखा जो पृथ्वी को बीच से विभाजित करती है के पास होते हैं वहां  Season  में कोई विशेष परिवर्तन नहीं होता है। तेज़ गर्मी  वर्ष भर बनी रहती है, क्योंकि पूरे वर्ष सूर्य की किरणें एक ही तीव्रता से पड़ती रहती हैं। पृथ्वी के इस हिस्से को हर दिन लगभग बारह घंटे धूप मिलती है। लेकिन इससे प्रक्रति को कोई नुक्सान नहीं होता | equator  का विशिष्ट जलवायु विभिन्न प्रकार के जीवों, वनस्पतियों और जीवों के लिए पूरी तरह से अनुकूल है। और यहां सैकड़ों प्रजातियां पाई जाती हैं |

ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले लोग गर्मियों में Christmas  क्यों मनाते हैं?

ऑस्ट्रेलिया Southern hemisphere  में स्थित है। जब Northern hemisphere में सर्दी होती है, तो यहां गर्मी होती है।पूरे विश्व में  Christmas हर साल 25 December को ही मनाया जाता है चाहे किसी भी देश में कोई भी मौसम क्यों न हो | और Australia में December में गर्मी का Season होता है | बच्चो की Summer Holidays शुरू होने का समय होता है | इस समय यहा दूसरे देशों की तरह Snow और Cold नहीं होती पर यहाँ के लोग Christmas को बड़े उत्साह से मनाते हैं वो अपने घरों को सजाते हैं और प्राथना करते हैं |

Australia के अलावा और भी देश है जहाँ Christmas गर्मियों में आता है –

New Zealand South Africa Madagascar Bolivia Argentina

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

Captcha

ScienceShala
Logo
Enable registration in settings - general